प्रधानमंत्री डिजिटल हेल्थ मिशन (PMDHM) योजना | Unique Health ID Card कैसे बनेगी? – Purijankari

भारत के प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेंद्र मोदी जी ने Digital Health Mission (PMDHM) की शुरुआत की हैं। इस योजना के अंतर्गत भारत के हर नागरिक को एक यूनिक हेल्थ ID दी जायेगी, जिसकी मदद से सरकार द्वारा देशव्यापी डिजिटल हेल्थ eco-system बनाया जायगा।

इससे पहले यह नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन (NDHM) के नाम से चल रही थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त, 2020 को इसे अंडमान-निकोबार, चंडीगढ़, दादरा नागर हवेली, दमनदीव, लद्दाख और लक्षद्वीप में शुरू किया था। इसे अब पूरे देश में शुरू किया गया है।

प्रधानमंत्री डिजिटल हेल्थ मिशन के अंतर्गत देश के सभी नागरिको के लिए एक Unique Health ID देगी जो की 14 अंको की होगी। इस कार्ड के अंतर्गत आपकी पूरी मेडिकल हिस्ट्री डिजिटल फॉर्मेट में अपडेट की जायेगी। इससे यह होगा की अगर आप किसी दूसरे शहर के अस्पताल में इलाज करवाने जा रहे हैं तो डॉक्टर इस यूनिक हेल्थ आयडी की मदद से आपके मेडिकल डॉक्यूमेंट देख पाएंगे। इस कार्ड से आपके मेडिकल हिस्ट्री का पूरा रिकॉर्ड रहेगा जिससे डॉक्टर को आपका इलाज करने में आसानी रहेगी।

यूनिक हेल्थ आयडी कार्ड के कई फायदे हैं तो चलिए जानते हैं इनके फायदों के बारे में:-

  • इस आयडी के अंतर्गत आपकी मेडिकल रिपोर्ट्स और मेडिकल हिस्ट्री शामिल होगी।
  • 14 अंको की यूनिक हेल्थ आयडी के माध्यम से डॉक्टर आपकी मेडिकल हिस्ट्री के बारे में जान पाएंगे।
  • नयी रिपोर्ट्स या फिर प्रारंभिक जांच में लगने वाला खर्च और इसके साथ ही समय बचेगा।
  • भविष्य में जो भी हेल्थ रिपोर्ट्स बनेगी उसका रिकॉर्ड इसके अंदर दर्ज होगा।
  • यूनिक आयडी के अंदर सारा हेल्थ रिकॉर्ड होने के कारण डॉक्टर को इलाज करने में भी आसानी होगी

यह भी जाने:- एलआईसी सरल पेंशन योजना

निचे दिए गए तरीके से आप यह यूनिक हेल्थ आयडी कार्ड बनवा पाएंगे:-

  • PHR App के जरिये रजिस्ट्रेशन करके।
  • सरकारी या निजी अस्पताल, कम्युनिटी हेल्थ सेण्टर पर भी कार्ड बनवा पाएंगे।
  • प्राइमरी हेल्थ सेण्टर, वैलनेस सेण्टर, कॉमन सर्विस सेण्टर पर भी यह आयडी बनवाने की सेवा उपलब्ध रहेगी।
  • मेडिकल रिकॉर्ड से सम्बंधित सारी जानकारिया दर्ज होगी।
  • इसके साथ भी यह भी दर्ज होगा की पिछली बार किसी डॉक्टर ने दवा बदली तो क्यों बदली।
  • कार्ड बनवाने के बाद अगर आपके पास कोई पुरानी मेडिकल रिपोर्ट्स हैं तो उसको इस कार्ड में स्कैन करके डाला जाएगा।
  • इसके बाद की जो भी रिपोर्ट्स होगी वो अपने आप ही इस आयडी में अपलोड होगी।
  • हॉस्पिटल में इसके लिए NDHM कर्मी इसके लिए मौजूद होगा।

यह भी जाने:- लड़कियों के लिए सरकारी योजना

  • आपके कार्ड में दर्ज डाटा कोई भी तभी देख पायेगा जब OTP नंबर बताएगा।
  • आयडी नंबर रजिस्टर्ड अस्पताल के कंप्यूटर में डालने पर OTP नंबर प्राप्त होगा।

Hi friends, we are a small team and we provide you with information related to government schemes and latest news. All the information we are collecting is from authentic sources. We hope you will like our content.