Hindi Grammar PDF in Hindi: हिन्दी व्याकरण रस pdf download – Purijankari

हिन्दी व्याकरण रस pdf Download | Hindi Grammar PDF in Hindi | हिन्दी व्याकरण की परिभाषा | Hindi Grammar in Hindi pdf Free Download | व्याकरण का महत्व PDF

Hindi Grammar PDF in Hindi: देखा जाए तो पूरी दुनिया में कई तरह कि भाषाएँ बोली जाती है, जिनका कुछ न कुछ बेस होता है। भाषाओ के द्वारा एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति के सामने अपनी बातो को रखता है, वा दूसरे व्यक्ति द्वारा रखी बातो को समझता है। हर भाषा में ग्रामर होती है जो किसी भी भाषा की एक प्रणाली है।

देखा जाए तो हिंदी व्याकरण हिंदी भाषा को शुद्ध रूप में लिखने व बोलने संबंधी नियमों का बोध कराने वाला शास्त्र है। हिंदी व्याकरण को आप हिंदी भाषा के अध्ययन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा भी कह सकते है।

जिसमे हिंदी भाषा के सभी स्वरूपों का चार खंडों के अंतर्गत अध्ययन किया जाता है। यथा-वर्ण विचार के अंतर्गत ध्वनि और वर्ण तथा शब्द विचार के अंतर्गत शब्द के विविध पक्षों संबंधी नियमों और वाक्य विचार के अंतर्गत वाक्य संबंधी विभिन्न स्थितियों एवं छंद विचार में साहित्यिक रचनाओं के शिल्पगत पक्षों पर विचार किया गया है। वक्त के साथ शब्दों, वाक्यांशों वा वाक्यों में लोग इसे विकसित करते गए और आज इसने भाषा या बोली का रुप ले लिया। सभी भाषाएँ समय के साथ बदलती रहती है, जिसे हम Grammar (व्याकरण) कहते है।

  • भाषा और व्याकरण
  • शब्द-विचार (क)
  • शब्द-विचार (ख)
  • शब्द-रूपांतरण लिंग वचन कारक काल वाच्य
  • पद-परिचय
  • संधि परिभाषा एवं प्रकार
  • समास परिभाषा एवं प्रकार
  • उपसर्ग परिभाषा एवं प्रकार
  • प्रत्यय परिभाषा एवं प्रकार कृदंत तद्धित
  • अर्थ-विचार
  • शुद्ध-वर्तनी
  • शब्द-शक्ति
  • वाक्य-विचार
  • विराम-चिन्ह
  • मुहावरे एवं लोकोक्तियां
  • अलंकार परिभाषा एवं प्रकार
  • पत्र लेखन: व्यक्तिगत या पारिवारिक पत्र, प्रार्थना पत्र, शिकायती पत्र, निमंत्रण पत्र, कार्यालयी पत्र, सामान्य सरकारी
  • पत्र, निविदा, अधिसूचना,
  • परिपत्र, अनुस्मारक, अर्धशासकीय पत्र, विज्ञप्ति, ज्ञापन, कार्यालय टिप्पणी, व्यवसायिक पत्र
  • तार लेखन:प्रकार एवं प्रारूप
  • संक्षिप्तीकरण अर्थ आवश्यक निर्देश संक्षिप्तीकरण
  • भाव विस्तार पल्लवन सामान्य परिचय, आवश्यक निर्देश, पल्लवन

देखा जाए तो हिंदी भाषा के एक अक्षर को वर्ण कहते हैं, वा इन अक्षरों के समूह को वर्णमाला कहते हैं। साथ ही हिंदी व्याकरण में इसे ध्वनि भी कहा जाता हैं। वैसे हिंदी ग्रामर तीन प्रकार के होते है।

  • वर्णविचार (Varṇa vichar) (In Letters)
  • शब्दविचार (shabd vichar) (In Words )
  • वाक्यविचार (vakya vichar) (In Sentences)

अगर आप हिन्दी व्याकरण pdf download करना चाहते है, तो निचे दिए गए तरीके को फॉलो करे।

  • आप हमारे इस पेज को पीडीऍफ़ फॉर्म में डाउनलोड करके रख सकते हैं इसके लिए आपको सबसे पहले CNTRL+P दबाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने पीडीऍफ़ सेव करने का ऑप्शन आएगा जिससे आप आसानी से पीडीऍफ़ सेव कर सकते हैं।

Hi friends, we are a small team and we provide you with information related to government schemes and latest news. All the information we are collecting is from authentic sources. We hope you will like our content.