Jharkhand Kisan Karj Mafi Yojana: किसानों पर मेहरबान हेमंत सरकार

Advertisement

Jharkhand Kisan Karj Mafi Yojana अगले वित्तीय वर्ष भी जारी रहेगी। हेमंत सरकार की मुख्यमंत्री ऋण माफी योजना के अंतर्गत ऋण माफ़ी की सिमा 50 हजार से बड़ा कर एक लाख किया जाएगा। चालु वित्तीय वर्ष के अंतर्गत झारखंड के 1.27 लाख किसानो को Jharkhand Kisan Karj Mafi Yojana का तत्काल लाभ मिलेगा।

झारखण्ड सरकार ने अगले वित्तीय वर्ष के लिए 1200 करोड़ रुपये का अपना बजट रखा हैं जिससे कई किसानो का इसका सीधा लाभ होगा। अगर हम चालू वित्तीय वर्ष के अंतर्गत कर्ज माफी के आकड़ो की बात करे तो  राज्य के 9.07 लाख किसानों का कर्ज माफ होना है। इन आकड़ो में 7.80 लाख किसान ऐसे होंगे जिनका पूरा कर्ज माफ़ होगा। क्योकि इन किसानो से 50 हजार से कम का कर्ज ले रखा हैं।

झारखण्ड राज्य में 1293887 किसानों पर 5774.92 करोड़ का बैंक ऋण है। और इसके अंदर 307458 किसानों का 1530 करोड़ का कर्ज एनपीए हो गया है।  78651 किसानों का 232.95 करोड़ रुपये कर्ज निपट चुका है। और अब  907778 लाख किसानों पर 4038.13 करोड़ का बैंक ऋण है।

यह भी पढ़े: झारखण्ड फसल राहत योजना 

Jharkhand Kisan Karj Mafi के लिए 1200 करोड़ का वित्तीय उपलब्ध 

Kisan Karj Mafi Yojana

झारखण्ड सरकार ने चालू वित्तीय वर्ष के अंतर्गत झारखण्ड कर्ज माफ़ी के लिए दो हजार करोड़ उपलब्ध करवाए थे। परन्तु कृषि विभाग ने खर्च के अभाव में आकर एक हजार करोड़ की राशि सरेंडर कर दी है। अगले वित्तीय वर्ष के अंतर्गत इसकी भरपाई करने के उद्देश्य से 1200 करोड़ का वित्तीय झारखंड सरकार ने उपलब्ध करवाए हैं।

झारखंड कृषि मंत्री ने कहा की सहकारिता का अहम रोल

झारखण्ड के कृषि मंत्री ने कहा की आने वाले 4 सालो में जो राज्य सरकार ने 24 लाख किसानों की आय बढ़ाने का जो सपना देखा हैं उसमे सहकारिता का अहम रोल होगा। अगर सहकारी समितियां मजबूत होती हैं तो राज्य मजबूत होगा। कृषि मंत्री ने पदाधिकारियों को नसीहत देते हुए कहा की हम सभी को मिलकर खामियों को दूर करना होगा। जो किसान हताश हैं, उन्हें काम दिलाकर उन्हें मुख्यधारा में लाना है।

यह भी पढ़े: Kisan Samman Nidhi Yojana List

Advertisement

Leave a Comment