One Nation One Gas Grid क्या है?, वन नेशन वन गैस ग्रिड योजना 2021

One Nation One Gas Grid | One Nation One Gas Grid UPSC | One Nation One Gas Grid In Hindi | One Nation One Gas Grid Energy Initiative | वन नेशन वन गैस ग्रिड पूरी जानकारी | One Nation One Gas Grid Yojana क्या है?

One Nation One Gas Grid Yojana प्राकर्तिक गैस से जुडी एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना हैं। इस योजना के अंतर्गत 450 किलोमीटर लम्बी पाइपलाइन का निर्माण किया गया हैं। आज हम इस लेख के माध्यम से आपको वन नेशन वन गैस ग्रिड योजना से जुडी कई सारी जानकारिया शेयर करने जा रही हैं। अगर आप UPSC स्टूडेंट हैं या फिर कोई आम आदमी भी तो यह लेख आपको कई सारी जानकारिया देगा। तो बने रहिये पूरिजनकारी के साथ अंत तक और जानिए इस योजना के बारे में आसान भाषा में।

One Nation One Gas Grid Yojana क्या है?

One Nation One Gas Grid

5 जनवरी 2021, मंगलवार के दिन हमारे देश के प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेंद्र मोदी जी ने वन नेशन वन गैस ग्रिड योजना का जिक्र एक कार्यक्रम में किया। जिसमे उन्होंने बताया की बाकी योजना की तरह ही यह योजना भी सरकार की एक महत्वकांशी योजनाओ की तरह ही हैं।

One Nation One Gas Grid Scheme के माध्यम से सरकार देश के कोने-कोने तक एलपीजी से लेकर पीएनजी और सीएनजी  गैस पहुंचना चाहती हैं। इस योजना के माध्यम से देश के कई ऐसे इलाको को तक गैस पहुचायी जा रही हैं या आगे पहुचायी जायेगी जहा गैस पहुंचना कठिन था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का यह कार्यक्रम वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये हुआ था। इस कार्यक्रम के अंतर्गत प्रधानमंत्री जी ने 450 किलोमीटर कोच्‍चि-मंगलुरू प्रकर्तिक गैस की पाइपलाइन देश जो समर्पित की हैं। One Nation One Gas Grid Energy Initiative  के माध्यम से स्वच्छ ऊर्जा अब देश के हर कोने तक पहुचायी जायेगी।

450 किलोमीटर कोच्‍चि-मंगलुरू प्रकर्तिक गैस पाइपलाइन का निर्माण गेल (इंडिया) लिमिटेड के द्वारा किया गया हैं। अगर हम इसकी प्रति दिन की परिवहन क्षमता की बात करे तो वह 12 मिलियन मीट्रिक मानक क्यूबिक मीटर हैं।

Advertisement

यह प्राकर्तिक गैस पाइपलाइन अभी केरल के कोच्चि स्थित एलएनजी के पुनर्गैसीकरण टर्मिनल से गैस मंगलुरू तक ले जाएगी जिसके अंतर्गत कई सारे जिले आएंगे जैसे एर्नाकुलम, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम, कोझीकोड, कन्नूर और कासरगोड।

इसके अलावा प्रधानमंत्री जी ने यह भी कहा की सरकार प्राकृतिक गैस की भागीदारी छह से बढ़ाकर 15 फ़ीसदी तक करने के लक्ष्य के ऊपर काम कर रही हैं।

यह भी जाने: One Nation One Mobility Card

वन नेशन वन गैस ग्रिड का उद्देश्य

One Nation One Gas Grid के माध्यम से सरकार देश के हर कोने तक प्राकर्तिक गैस पहुचाना चाहती हैं। इस परियोजना के माध्यम से उन इलाकों तक भी गैस पाइपलाइन पहुचायी गयी हैं जहा पहुंचना बहुत कठिन था। आने वाले समय में सरकार देश के सभी इलाकों में प्राकर्तिक गैस पाइपलाइन पहुचायेगी ताकि देश की जनता को स्वच्छ ऊर्जा मिल सके जिससे लोगो का स्वस्थ भी सुधरेगा।

इसके साथ ही सरकार का यह लक्ष्य हैं की भारत की ऊर्जा जरूरतों में प्राकृतिक गैस की हिस्सेदारी 6 से बढ़ाकर 15 फीसदी कर दे। वन नेशन वन गैस ग्रिड के माध्यम से कई सारे लोगो को रोजगार भी प्राप्त हुआ हैं और आगे भी जैसे-जैसे यह परियोजना पड़ेगी अन्य लोगो को भी रोजगार मिलेगा।

यह भी जाने: एक देश एक राशन कार्ड योजना

One Nation One Gas Grid के फायदे और विशेषताएं

One Nation One Gas Grid, वन नेशन वन गैस ग्रिड

इस परियोजन के कई सारे फायदे हैं तो आइये जानते हैं:-

  • इस परियोजना के माध्यम से अब लोगो को प्राकर्तिक गैस मिलेगी।
  • सरकार ने देश के सभी जगह तक इस परियोजना को ले जाने का लक्ष्य रखा हैं।
  • प्राकर्तिक गैस का इस्तेमाल करने से भारत के लोगो के स्वास्थय में सुधार आएगा।
  • पाइपलाइन एक जगह से दूसरे जगह तक ले जाने पर काम करने के लिए लोगो की जरुरत होगी जिससे रोजगार के अवसर भी मिलेगी।
  • ‘वन नेशन वन गैस ग्रिड’ के अंतर्गत अभी कोच्‍चि से लेकर मंगलुरू प्राकर्तिक गैस की पाइपलाइन का निर्माण किया गया हैं जो 450 किलोमीटर लम्बी हैं। जिसके अंतर्गत कई सारे जिले कवरकिये जायेगे जैसे एर्नाकुलम, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम, कोझीकोड, कन्नूर और कासरगोड।
  • अगर हम इसकी परिवहन क्षमता की बात करे तो वह 12 मिलियन मीट्रिक मानक क्यूबिक मीटर प्रति दिन है।
  • ‘वन नेशन वन गैस ग्रिड’ के अंतर्गत कोच्‍चि-मंगलुरू प्राकृतिक गैस पाइपलाइन निर्माण की लागत 3000 करोड़ रुपये आई हैं।
  • भारत के शहरों में गैस आधारित व्यवस्था का भी विकास होगा जिससे पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।

यह भी जाने: Ration Card Kerala Online Registration

One Nation One Gas Grid के अंतर्गत कोच्‍चि-मंगलुरू प्रकर्तिक गैस की पाइपलाइन का निर्माण किस कंपनी ने किया?

450 किलोमीटर कोच्‍चि-मंगलुरू प्रकर्तिक गैस की पाइपलाइन का निर्माण Gail Limited ने किया जो की एक पब्लिक सेक्टर नेचुरल प्रोसेसिंग एंड डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी हैं।

Leave a Comment