UP Mission Shakti 3.0: जानिए जानिए महिलाओ को मिलने वाली सुविधाएं वा कार्यान्वयन प्रक्रिया

UP Mission Shakti 3.0 Online Registration | UP Mission Shakti 3.0 Application Form | Uttar Pradesh Mission Shakti 3.0 Registration | UP Mission Shakti 3.0 In Hindi

UP Mission Shakti 3.0: हम सभी हमारे देश में रहने वाली महिलाओ की स्थिति से अच्छी तरह से वाकिफ है वा महिलाओ के लिए समाज में फैली नकारात्मकता से भी हम अनजान नहीं है। समाज में महिलाओ के प्रति फैली इन्ही सोचो को बदलने के लिए केंद्र वा राज्य सरकारों के द्वारा जागरूक अभियान वा कई तरह की योजनाओ का संचालन किया जाता है ऐसी ही एक योजना को उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा आरंभ किया गया है, जिसका नाम UP Mission Shakti 3.0 है। इस योजना के माध्यम से महिलाओ का सशक्तिकरण किया जाएगा।

यदि आप यूपी मिशन शक्ति 3.0 से जुडी समस्त प्रकार की जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो आपको हमारे द्वारा लिखे गए इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा। जिसमे हमने यूपी मिशन शक्ति 3.0 योजना क्या है?, योजना का मुख्य उद्देश्य, योजना से होने वाले लाभ वा विशेषताएं, योजना की पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज वा योजना में आवेदन प्रक्रिया के बारे में पूरी जानकारी दी है। तो आपसे निवेदन है, के आप इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

यूपी मिशन शक्ति 3.0 क्या है?

वर्ष 2020 में उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा यूपी मिशन शक्ति अभियान का शुभारंभ किया गया था। इस योजना के माध्यम से प्रदेश में रहने वाली महिलाओ को स्वतंत्र व सुरक्षित बनाया जाएगा। जिसके लिए नागरिको में जागरूकता फैलाने के लिए ट्रेनिंग प्रोग्रामो का संचालन किया जाता है। जिससे महिलाओ को उनके अधिकारों के बारे में जानकारी प्राप्त होती है। अब तक इस योजना को उत्तर प्रदेश के करीब 75 जिलों में लांच किया गया है। वही इस योजना को लांच करते समय योजना को दो भागो में विभाजित किया गया था। जिसमे पहला मिशन शक्ति वा दूसरा आपरेशन शक्ति था।

मिशन शक्ति के तहत राज्य में रहने वाली प्रत्येक महिला को उनके अधिकारों को लेकर जागरूक करना था वा ऑपरेशन शक्ति के तहत ऐसे लोगो को सजा दिलाना था जो महिलाओ के साथ दुर्व्यवहार या किसी तरह का अपराध करते है। अब उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा इसका तीसरा चरण आरंभ किया जा रहा है, जिसका इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान, लखनऊ में 21 अगस्त 2021 को शुभारंभ किया जाएगा।

यह भी पढ़े:- UP Bhagya Laxmi Yojana

तीसरे चरण के शुभारंभ के मोके पर पहले वा दूसरे चरण में उल्लेखनीय कार्य करने वाली 47 जिलों की उन सभी 75 महिला अधिकारियों व कर्मचारियों को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की उपस्थिति में पुरस्कार भी प्रदान किये जाएंगे।

UP Mission Shakti 3.0

योजना का नाम मिशन शक्ति अभियान 3.0
किनके द्वारा आरंभ की गईउत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा
योजना का मुख्य उद्देश्यराज्य में रहने वाली महिलाओं को सशक्त
एवं आत्मनिर्भर बनाना
योजना से जुड़े लाभार्थीउत्तर प्रदेश राज्य की महिलाएं
योजना का तीसरा चरण आरंभ करने की तिथि21 अगस्त 2021
राज्यउत्तर प्रदेश
वर्ष2022
आवेदन करने की प्रक्रियाऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटजल्द लांच की जाएगी

यूपी मिशन शक्ति अभियान 3.0 का मुख्य उद्देश्य

UP Mission Shakti 3.0 का मुख्य उद्देश्य राज्य में रहने वाली महिलाओ को उनके अधिकारों के विषय में जानकारी देकर उन्हें सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाना है। जिसके लिए योजना के माध्यम से कई तरह के जागरूक अभियान एवं ट्रेनिंग प्रोग्रामो को संचालित किया जाता है। इन जागरूक अभियान एवं ट्रेनिंग प्रोग्रामो के माध्यम से महिलाये अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होंगी।

इस अभियान को उत्तर प्रदेश के करीब 75 जिलों में 6 महीनो की अवधि के लिए आरंभ किया गया है। इस अभियान को दो भागो में विभाजित किया गया था। जिसमे पहला मिशन शक्ति वा दूसरा आपरेशन शक्ति है। मिशन शक्ति के तहत राज्य में रहने वाली प्रत्येक महिला को उनके अधिकारों को लेकर जागरूक करना था। एवं ऑपरेशन शक्ति के तहत ऐसे लोगो को सजा दिलाना था, जो महिलाओ के साथ दुर्व्यवहार या किसी तरह का अपराध करते है।

यह भी पढ़े:- IGRSUP

मिशन शक्ति अभियान को सरकार करेगी अधिक सक्रिय एवं प्रभावी

2 अप्रैल 2022 से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा मिशन शक्ति अभियान को अधिक सक्रीय एवं प्रभावी तरीके से संचालित करने के निर्देश जारी किए गए है। मुख्यमंत्री जी के द्वारा इस अभियान के तहत बाजार वा स्कूल-कॉलेज एवं भीड़भाड़ वाली जगहों पर विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही मुख्यमंत्री जी के द्वारा गृह विभाग से 100 दिन का कार्य योजना के तहत प्राथमिकताएं तय कर तेजी से कार्यवाही करने के निर्देश भी दिए गए हैं।

इसके अलावा मुख्यमंत्री जी के द्वारा पुलिस विभाग में भी 100 दिन में कम से कम 10000 पुलिसकर्मियों की भर्ती करने के निर्देश दिए गए हैं। 100 दिनों की कार्ययोजना के संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा 1 अप्रैल 2022 को सरकारी आवास पर गृह विभाग की उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक भी आयोजित की गई थी।

यह भी पढ़े:- UP Rastriya Parivarik Labh Yojana

उद्यमिता से 75000 महिलाओं को जोड़ा जाएगा

उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा एक नई मुहिम का आरंभ किया गया है, जिसके द्वारा महिलाओं को स्वावलंबी बनाया जाएगा। मिशन शक्ति अभियान के तहत 75 जिलों की 75000 महिलाओं को उद्यमिता से जोड़ने हेतु विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। महिलाओ को यह प्रशिक्षण शिविरों के माध्यम से प्रदान किया जाएगा। साथ ही सभी प्रशिक्षणार्थियों को टूलकिट भी प्रदान की जाएगी, वा प्रशिक्षण पूरा होने पर अपना उद्यम स्थापित करने हेतु बैंको से आसान किस्तों पर लोन भी प्राप्त कर सकेंगे। जिससे वह अपनी वित्तीय जरूरतों को पूरा कर सके।

महिला उद्यमियों की समस्याओ को हल करने के लिए लिए हेल्प डेस्क, मोबाइल एप एवं वेबसाइट को भी आरंभ किया जाएगा। मिशन शक्ति अभियान को राज्य में रहने वाली महिलाओ वा लड़कियों को जागरूक करने हेतु आरंभ किया गया था, इसके अलावा महिलाओ के प्रति हिंसा करने वाले लोगो की पहचान करना वा महिलाओ को राज्य में सुरक्षित महसूस कराना भी इस योजना का एक उद्देश्य है।

यह भी पढ़े:- Kanya Sumangala Yojana

मिशन शक्ति अभियान के उद्घाटन पर मुख्यमंत्री जी ने कहा

मुख्यमंत्री जी के द्वारा मिशन शक्ति अभियान का उद्घाटन करते समय कहा गया कि जिस तरह से ODOP योजना को पुरे भारत देश में सराहा जा रहा है, उसी तरह जल्द ही मिशन शक्ति अभियान को भी सराहा जाएगा। इस योजना के तहत प्रत्येक थाने में महिला हेल्प डेस्क को भी स्थापित किया गया है। साथ ही गाँवो में महिला शक्ति बूथ भी स्थापित किए गए हैं। इसके अलावा अभियान के तीसरे चरण में करीब 20000 से अधिक महिला आरक्षिओ को बीट पुलिस के रूप में फील्ड की जिम्मेदारी प्रदान की गई है। जो की हर गांव में महिलाओ को सुरक्षा वा सम्मान सुनिश्चित करने का प्रयास करेंगी।

देखा जाए तो इस योजना के आने के पश्चात राज्य की महिलाएं पहले से ज्यादा सुरक्षित, सफल और स्वावलंबी हो गई है। वही एक जनपद एक उत्पाद योजना के तहत अंतर्गत सभी 75 जिलों के उत्पादों पर आधारित विशेष कवर एवं डाक टिकट का भी अनावरण किया जा रहा है।

यह भी पढ़े:- Uttar Pradesh Parivar Register

मिशन शक्ति अभियान 3.0 में मिलने वाले मुख्य लाभ

इस योजना के कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री निरीक्षक महिला पेंशन योजना के 29.68 लाख महिलाओं के खाते में 451 करोड रुपए की राशि ट्रांसफर किया जाएगा। इसके अलावा करीब 1.73 लाख से अधिक नए लाभार्थी इस योजना से जुड़ेंगे। वही 1.55 लाख उन बेटियों के खाते में 30.12 करोड रुपए ट्रांसफर किए जाएंगे जो मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना से जुडी है। इसके अलावा 59 ग्राम पंचायत भवनों में भी मिशन शक्ति कक्ष की शुरुआत की जाएगी।

तीसरे चरण में सभी महिलाओ को रोजगार की मुख्यधारा से जोड़ा जाएगा। साथ ही इस कार्यक्रम में महिला बीट पुलिस अधिकारियों की तैनाती भी की जाएगी। इसके अलावा 1286 थानों में 84.79 करोड रुपए की लागत से पिंक टॉयलेट का निर्माण किया जाएगा। साथ ही महिला बटालियन के लिए 2982 पदों पर विशेष भर्ती भी की जाएगी। इन सभी के अलावा इस कार्यक्रम में पुलिस लाइन में बालवाड़ी क्रोच की स्थापना भी की जाएगी।

यह भी पढ़े:- UP Shadi Anudan Yojana

UP Mission Shakti 3.0 योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा वर्ष 2020 में यूपी मिशन शक्ति अभियान का शुभारंभ किया गया था।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य में रहने वाली महिलाओ वा बेटियों को स्वलंबी एवं सुरक्षित बनाने हेतु आरंभ किया गया था।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य में रहने वाली महिलाओ वा लड़कियों में जागरूकता फैलाने के लिए ट्रेनिंग प्रोग्रामो का संचालन किया जाता है। जिससे महिलाओ को उनके अधिकारों के बारे में जानकारी प्राप्त होती है।
  • अब तक इस योजना को उत्तर प्रदेश के करीब 75 जिलों में लांच किया गया है।
  • इस योजना को लांच करते समय योजना को दो भागो में विभाजित किया गया था। जिसमे पहला मिशन शक्ति वा दूसरा आपरेशन शक्ति था। वही अब इस योजना का तीसरा चरण आरंभ होने जा रहा है।
  • UP Mission Shakti 3.0 के तीसरे चरण को इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान, लखनऊ में 21 अगस्त 2021 को शुभारंभ किया जाएगा।
  • तीसरे चरण के शुभारंभ के मोके पर पहले वा दूसरे चरण में उल्लेखनीय कार्य करने वाली 47 जिलों की उन सभी 75 महिला अधिकारियों व कर्मचारियों को पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे।
  • जिसमे राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की उपस्थिति में पुरस्कार भी प्रदान किये जाएंगे।
  • इस योजना के कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री निरीक्षक महिला पेंशन योजना के 29.68 लाख महिलाओं के खाते में 451 करोड रुपए की राशि ट्रांसफर किया जाएगा।
  • इसके अलावा करीब 1.73 लाख से अधिक नए लाभार्थी इस योजना से जुड़ेंगे।
  • वा 1.55 लाख उन बेटियों के खाते में 30.12 करोड रुपए ट्रांसफर किए जाएंगे जो मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना से जुडी है।
  • इसके अलावा 59 ग्राम पंचायत भवनों में भी मिशन शक्ति कक्ष की शुरुआत की जाएगी।
  • तीसरे चरण में सभी महिलाओ को रोजगार की मुख्यधारा से जोड़ा जाएगा। साथ ही इस कार्यक्रम में महिला बीट पुलिस अधिकारियों की तैनाती भी की जाएगी।
  • इसके अलावा 1286 थानों में 84.79 करोड रुपए की लागत से पिंक टॉयलेट का निर्माण किया जाएगा।
  • साथ ही महिला बटालियन के लिए 2982 पदों पर विशेष भर्ती भी की जाएगी।

यह भी पढ़े:- Sakhi Yojana

यूपी मिशन शक्ति 3.0 में आवेदन हेतु महत्वपूर्ण दस्तावेज व पात्रता

  • आवेदनकर्ता उत्तर प्रदेश राज्य का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदनकर्ता महिला होनी चाहिए।
  • आवेदनकर्ता के पास आधार कार्ड होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता के पास आय प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता के पास निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता के पास राशन कार्ड होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता के पास आयु प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता के पास बैंक खाता विवरण होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता के पास मोबाइल नंबर होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता के पास पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ होना चाहिए।

यह भी पढ़े:- उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना

यूपी मिशन शक्ति 3.0 में ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

हम आपको बता दे के उत्तर प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा अभी तक यूपी मिशन शक्ति 3.0 को केवल आरंभ करने की घोषणा की गई है। जल्दी ही यूपी सरकार के द्वारा इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए ऑफिसियल वेबसाइट लांच की जाएगी। सरकार के द्वारा जैसे ही योजना से जुडी किसी तरह की जानकारी आती है, हम आपको अपने इस लेख में अपडेट करके जरूर बताएँगे। यदि आप UP Mission Shakti 3.0 योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है, तो हमारे इस लेख पर नजर बनाये रखे।

Leave a Comment